Best way to increase body immunity


Best way to increase body immunity
Share on

हर रोग से लड़ने के लिए हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता ही काम आती है। रोग प्रतिरोधक क्षमता की कमी होने से हम गंभीर बीमारियों के शिकार हो जाते हैं। इसके लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता का मजबुत होना बहुत आवश्यक है। यदि रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होगी तो आप रोज रोज बीमार नहीं होंगे। इसलिए यह आवश्यक है कि रोग प्रतिरोधक क्षमता को अपनी जीवन शैली और खान पान से ठीक कर सकता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए जरूर पढ़ें।

1. रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए क्या - क्या खाएं

कुछ विशेष खाद्य पदार्थों को अपने खाने में शामिल करें जो निम्नलिखित है
(a) लहसुन - लहसुन का उपयोग करना चाहिए और अपने खाने में लहसुन को शामिल करना चाहिए | लहसुन में एंटी - आक्सीडट से भरपूर तत्व पाए जाते हैं। एंट - अक्सिडेंट शरीर की कई प्रकार की बीमारियों से लड़ने में सहायक होता है। इसके अलावा लहसुन में एल्लीसिन नाम तत्व भी होता है जो कई प्रकार के सक्रमण और बैक्टीरिया से लड़ने की शक्ति देता है।
(b) अलसी - अलसी एक बहुत अच्छी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का श्रोत है अल्पा - लिलैटिक सङ, ओमेगा -3 फैटी एस्टी असली में पाया जाता है। जो इम्युनिटी बूस्टर का काम करते हैं इसलिऐ अलसी का सेवन जरूर करना चाहिए।
(c) हरी सब्जिया और फल हरी सब्जियां और फल को नियत रूप से लेने से आप अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं।
(d) सूखे मेवे (Dried fruits): - खुबानी (Apricot), सुरजमुखों फुल के बीज (Sunfolwyer Seds), खरबूजे के बीज, लोकी के बीज, तिल आदि सूखे मेवे को खाने में शामिल करना चाहिए। इन सूखे मेवे में पाए जाने वाले तत्व जैसे बीटा करोटीन, सेलेनियम, विटामिन A, विटामिन B2 और जिंक जो कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने के लिए बहुत जरूरी होते हैं।
(e) दालचीनी - एंटी - ऑक्सीडेंट गुण दालचीनी में पाया जाता है जो खुन को जमने से रोकता है और हानिकारक बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकने में बहुत लाभदायक होता है।

2. रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिये अपनाए उचित दिनचर्या

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिये अपने जीवन शैली में कुछ खास परिवर्तन करने चाहिए। सही समय पर सोना व जागना , सही समय पर खान खाना चाहीये । और अपने काम को भी ठीक मैनेज करना चाहीए।

3. रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए पानी पिये

हमें कम से कम 2 लीटर पानी हर रोज पीना चाहिए और पानी को थोडे थोडे अन्तराल पर पीना चाहिए। इससे शरीर को शक्ति मिलती है।

4. रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए शरीर का वजन नहीं बढ़ना चाहिए

शरीर का वजन बढ़ना अपने आप में एक महामारी का जाल हैं। जो अनेको बिमारिओं का घर बन जाता है। इसलिए अपने शरिर का वजन नहीं बढ़ाना चाहिए।

5. उचित नींद ले रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए

शरीर को कम से कम 7 - 8 घंटे की नींद की आवश्कता है। इस से शरीर और मन का फैश होता है। कम नींद के कारण कई प्रकार की समस्या बढ़ जाती है। जिससे रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रभावित होती है।

6. च्यवनप्राश का सेवन करना चाहिए

च्यवनप्राश के सेवन से शरीर में कमजोरी दूर होती है और शरीर को भूख भी लगती है। और आयुर्वेद में च्यवनप्राश का सेवन करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ रही है।

7. रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए व्यायाम करना चाहिए

नियमित रूप से व्यायाम करने वाले व्यक्ति को बहुत कम बीमार होते हैं। इस का प्रमुख कारण यह है कि व्यायाम से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है।

8. धूम्रपान और शराब का सेवन नहीं करे

धूम्रपान व शराब हमारे शरीर पर बहुत बुरे प्रभाव डालते हैं| इससे हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने लगती हैं। अत: इनका सेवन नही करना चाहिये।

9. ब्लड प्रेशर सामान्य रखे

ब्लड प्रेशर को सामान्य रखना चाहिए और अपने ब्लड प्रेशर की समय समय पर जाँच करवाते रहना चाहिऐ।

10. रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए अपने शरीर के प्रति सचेत रहना चाहिऐ

शरीर के प्रति संवेदनशील रहना बहुत जरूरी है। आजकल की भाग दौड की लाइफ में अपने शरीर का ख्याल रखना बड़ा मुशकिल हो जाता है।

Other Important Links

 

Leave a Comment

I agree to the terms and conditions.